बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कैसे बनाए

जब किसी बच्चे को अपने पिता या घरवालों से पैसे चाहिए होता है तो बच्चा सीधे पैसे नहीं मांगता है। बच्चा पैसे मांगने से पहले अपने दिमाग में कोई एक ऐसी कहानी बनाने का प्रयास करता है, जिसे सुनने के बाद उसको पैसे आसानी से मिल जाये। पैसों के लिए वह जरूरतमंद बताने का प्रयास करता है। 

ठीक इसी तरह जब किसी कारोबारी को अपने बिजनेस के लिए बिजनेस लोन चाहिए होता है, तो कारोबारी को पहले खुद को जरूरतमंद दिखाना होता है। ताकि उसे वित्तीय संस्थान (बैंक या एनबीएफसी) से बिजनेस लोन के रुप में धन मिल जाए। 

ऐसा नहीं है कि कारोबारी सिर्फ अपने को जबानी तौर पर जरूरतमंद बताए और उसे बैंक या एनबीएफसी से बिजनेस लोन मिल जायेगा। कारोबारी को पेपर पर यह लिखित में देना होता है कि उसे कितने धन की आवश्यकता है और वह बिजनेस लोन के तौर पर मिलने वाले धन का उपयोग कैसे करेगा।

जब कोई कारोबारी पेपर पर लिखित रुप से खुद को धन की आवश्यकता बताता है तो उस लिखित पेपर को ही बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कहते हैं। आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी ‘ZipLoan’ से एमएसएमई कारोबारियों को 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन, सिर्फ 3 दिन* में प्रदान किया जाता है। आइये आपको विस्तार से बिजनेस लोन प्रोजेक्ट के बारें में जानकारी देते हैं।

आपका बिजनेस कितना पुराना है?
पिछले साल की बिक्री ?
प्रथम नाम
अंतिम नाम
मोबाइल नंबर
अपने शहर का नाम दें

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

logo
बेहद कम कागजी दस्तावेज प्रक्रिया

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं

logo
बिना कुछ गिरवी रखें

10 लाख सालाना टर्नओवर कारोबार के लिए

logo
सिर्फ 3 दिन के भीतर लोन मिलेगा

घर बैठे आपके बैंक अकाउंट में

logo
6 महीने बाद प्री-पेमेंट फ्री

आसान किश्तों में वापस करें

बिजनेस लोन प्रोजेक्ट क्या है?

हमें जब भी किसी से पैसे चाहिए होता है तो हम पहले अपनी जरूरत बताते हैं। फिर यह बताते हैं कि आपका स्टेटस क्या है। मतलब आपके पैसे डूबेंगे नहीं, बल्कि कुछ समय बाद पैसों की वापसी हो जाएगी। इसी तरह जब किसी कारोबारी को बिजनेस लोन चाहिए होता है तो वह बैंक या एनबीएफसी जाता है। 

जब कारोबारी बिजनेस लोन के लिए आवेदन करने के लिए आगे बढ़ता है तो बिजनेस लोन के आवेदन के साथ कारोबारी से बिजनेस लोन प्रोजेक्ट की मांग की जाती है। मतलब कारोबारी से यह कहा जाता है कि आपको कितने धन की आवश्यकता है? आप बिजनेस लोन के रुप में मिले धन का उपयोग किस मद में करेंगे और आपके पास बिजनेस से जुड़े कितने साधन/मशीन इत्यादि पहले से मौजूद है। 

इन सब की जानकरी कारोबारी को पेपर पर लिखित रुप में देना होता है। यही लिखित में दिया गया पेपर ही बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कहलाता है। बिजनेस लोन प्रोजेक्ट का पर्पज वित्तीय संस्थान को यह समझना होता है कि कारोबारी को कितने धन की आवश्यकता है और वह धन वापस कर पायेगा या नहीं कर पायेगा। बिजनेस लोन प्रोजेक्ट के हिसाब से ही बिजनेस लोन देने का या नहीं देने का फैसला किया जाता है। एक तरह इसे हम लोन मिलने और न मिलने के बीच की महीन लकीर भी कह सकते हैं। 

बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कैसे बनता है?

बिना लाग – लपेट के कहा जाये तो बिजनेस लोन प्रोजेक्ट में बिजनेस की बेसिक जरूरी जानकारियां देना होता है। लेकिन, यह जानकारी सादे कागज पर सिर्फ लिखकर नहीं देना होता है बल्कि इसे एक फार्मेट के तहत बैंक/एनबीएफसी के सम्मुख प्रस्तुत करना होता है। 

इसे और आसान तरीके से समझने के लिए मैं आपको रिज्यूमे के बारें में चर्चा करूंगा। जिस प्रकार लोग नौकरी पाने के लिए अपना रिज्यूमे यानी बायोडाटा बनाते हैं। उस बायोडाटा में उन्होंने जो – जो शिक्षा हासिल किया होता है, जो अनुभव हासिल किया होता है, उन सभी के बारें में बहुत अच्छे से बताया जाता है। एक फार्मेट के अंदर। तो उसी प्रकार बिजनेस लोन प्रोजेक्ट बनाते समय भी बिजनेस से जुडी सभी जानकारियां एक तय फार्मेट के अंदर लिखा जाता है। 

बिजनेस लोन प्रोजेक्ट के लिए निम्न जानकारियां देना महत्वपूर्ण होता है:

 

इसके अतिरिक्त धन संबंधित निम्न जानकारियां देना होता है:

 

आपको बिजनेस लोन प्रोजेक्ट बनाना और आसान तरीके से सिखाने के लिए हम एक डमी बिजनेस लोन प्रोजेक्ट उदाहारण के तौर बनाते हैं:

बिजनेस का परिचय
यहां आपको अपने बिजनेस का नाम जैसे – अमन इलेक्ट्रिक वर्क्स  

यहां पर आपको अपने बिजनेस का नाम और बिजनेस की प्रकृति के बारें में लिखन होता है।

बिजनेस की लोकेशन
यहां पर बिजनेस की लोकेशन लिखना है जैसे: कनाट प्लेस, नई दिल्ली 110001 

वित्तीय जानकारी देना है
बिजनेस की वित्तीय जानकारी इस फार्मेट में लिखा जाना चाहिए

ड्रिल मशीन (हाई क्वालिटी)

RS, 2,80,000 /-

गोलाकार मशीन (हाई क्वालिटी)

RS , 3,20,000/-

लोहा काटने वाली मशीन 

(इसी तरह आपको सभी चीजों का नाम और और उनका मूल्य लिखना होता है।)

RS, 1,35,000 /-

अंत में बिजनेस की जगह का किराया लिखना होता है

एक बड़ा हाल (20*25), एक ऑफिस (10*15)

(अगर बिजनेस खुद के जगह पर हो तो इस कॉलम में नॉन लिखा जाता है)

RS , 25,000/-

 

बस बन गया आपका बिजनेस लोन प्रोजेक्ट।

इस तरह से आपने देखा कि बिजनेस लोन प्रोजेक्ट बनाना बिजनेस लोन प्राप्त करने के लिए कितना महत्वपूर्ण है। आपने यह भी देखा कि बिजनेस लोन प्रोजेक्ट बनाना कितना आसान है। तो आपको जब भी बिजनेस लोन की आवश्यकता हो तो आप इस तरह बिजनेस लोन प्रोजेक्ट बना सकते हैं। आपको बताते हैं कि बिजनेस लोन कहां बहुत आसानी से मिलता है।

ZipLoan से मिलता है सिर्फ 3 दिन* में 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन

फिनटेक क्षेत्र की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) ZipLoan द्वारा कारोबारियों की आर्थिक समस्या को समझा जाता है। कारोबारियों की आर्थिक जरूरत को देखते हुए ZipLoan द्वारा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम श्रेणी के कारोबारियों को सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है। 

आपके जानकारी के लिए बता दें कि ZipLoan कंपनी भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) से रजिस्टर्ड कंपनी है। ZipLoan कंपनी से पात्र कारोबारी को 1 से 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन मिल सकता है। इसी के साथ आपको बता दें कि ZipLoan कंपनी के यहां 2.5 लाख तक की टॉप – अप लोन की सुविधा भी उपलब्ध है। टॉप – अप लोन की सुविधा उन सभी कारोबारियों को मिलती है जो कारोबारी अपने लोन की न्यूनतम 9 EMI सफलतापुर्वक भुगतान कर देते हैं। 

न्यूनतम पात्रता पर बिजनेस लोन

न्यूनतम कागजातों पर बिजनेस लोन

  1. पैन कार्ड
  2. पिछले 9 महीने का बैंक स्टेटमेंट
  3. आईटीआर की कॉपी
  4. घर या बिजनेस की जगह में से किसी एक के मालिकाना हक का प्रूफ (यह ब्लड रिलेटिव जैसे माता – पिता, भाई – बहन, पति – पत्नी, पुत्र – पुत्री में से किसी के नाम पर होगा तो भी मान्य किया जाता है।
ICICI-Prudential-Internal-page

बुनियादी समस्याओं का हल

राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया क्योंकि ZipLoan को लोन के बदले कुछ गिरवी रखने की जरूरत नही थी। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?