दिव्यांगों के लिए व्यावसायिक ऋण / बिजनेस लोन

हमारे देश में अगर कोई व्यक्ति दिव्यांग/विकलांग होता है तो उसे सहानभूति की नजरों से लोग देखने का प्रयास करते हैं। लेकिन पिछले कुछ वर्षों से लोगों के नजरिये में बदलाव देखने को आया है। इस बदलाव के पीछे दिव्यांग/विकलांग लोगों का आर्थिक रुप से समर्थ होना है।

अब केन्द्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा ऐसी योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिससे दिव्यांग/विकलांग भी सम्मानित जीवन जी सकते हैं। केन्द्र सरकार द्वारा कई ऐसी सरकारी योजना शुरु हुई है जिसमे विकलांगों/दिव्यंगों को कारोबार करने के लिए बिजनेस लोन मुहैया कराया जाता है। 

एक ऐसी ही योजना नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन द्वारा चलाई जा रही है। नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन द्वारा दिव्यांग/विकलांग लोगों को बिजनेस शुरु करने के लिए 5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन स्वीकृत किया जाता है। 

नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन (NHFDC) द्वारा स्वीकृत बिजनेस लोन का भुगतान लिस्टेड बैंक और एनबीएफसी से होता है। सरल भाषा में कहें तो पहले NHFDC द्वारा बिजनेस लोन स्वीकृत किया जाता है। फिर NHFDC के यहां लिस्टेड बैंक और एनबीएफसी से बिजनेस लोन मिलता है।

आपका बिजनेस कितना पुराना है?
पिछले साल की बिक्री ?
प्रथम नाम
अंतिम नाम
मोबाइल नंबर
अपने शहर का नाम दें

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

Icon1

न्यूनतम कागजात

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं है

Icon4

प्री-पेमेंट चार्जेंस फ्री

6 EMI का भुगतान करने के बाद

Icon3

सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन

रकम आपके बैंक खाते में

नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन (NHFDC) क्या है?

यह एक केन्द्र सरकार का संगठन है। इस संगठन का मुख्य कार्य दिव्यांग/विकलांग लोगों की आर्थिक से रुप से मदद करके उन्हें सशक्त करना है। इसे हम इस तरह भी कह सकते हैं कि भारत सरकार द्वारा दिव्यांग/विकलांग लोगों की जिंदगी आसान करने के लिए नेशनल हैंडीकैप्ड फाइनेंस एंड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन‘ (NHFDC) का गठन किया गया है। 

नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन (NHFDC) की स्थापना सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 24 फरवरी, 1997 को की गई थी। NHFDC, कम्पनी अधिनियम, 1956, अनुच्छेद-25 के तहत पंजीकृत है तथा ये गैर-लाभ वाली (नॉन प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन) कम्पनी है। 

यह भारत सरकार द्वारा पूर्णतया स्वामित्व वाली कम्पनी है और इसकी प्राधिकृत अंश पूंजी 400 करोड़ रुपये (चार सौ करोड़ रुपये मात्र) है। कम्पनी निदेशकों के बोर्ड द्वारा प्रबंधित की जाती है जो भारत सरकार द्वारा नामांकित किये जाते है। 

नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन (NHFDC) का उद्देश्य क्या है?

NHFDC का उद्देश्य दिव्यांग/विकलांग व्यक्तियों के लाभार्थ आर्थिक विकास क्रियाकलापों को बढ़ावा देना। दिव्यांग/विकलांग व्यक्तियों के लाभ/आर्थिक पुनर्वास के लिए अन्य उपक्रमों एवं स्वरोजगार को प्रोत्साहन देना। उन विकलांग व्यक्तियों लोन प्रदान करना जो बिजनेस करने के लिए कोई वोकेशनल ट्रेनिंग लेना चाहते हैं।

मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट (उत्पादन इकाई) के पर्याप्त एवं दक्ष प्रबंधन के लिए विकलांग व्यक्तियों के तकनीकी एवं उद्यमीय कौशल के उन्नयन में सहायता प्रदान करना। तैयार माल की बिक्री के लिए विकलांग व्यक्तियों की मदद करना। बिजनेस को शरू करने के लिए बिजनेस लोन देना ही नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन (NHFDC) का उद्देश्य है।

नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन से किस बिजनेस के लिए लोन मिलता है?

NHFDC द्वारा जिन कारोबार के लिए बिजनेस लोन मिलता है, वह कारोबार निम्न हैं:

 

NHFDC के तहत इन बैंको से लोन मिलता है 

 

NHFDC के तहत मिलने वाले बिजनेस लोन पर ब्याज दर इतना होता है

बिजनेस लोन की रकम 

ब्याज दर का रेट 

50 हजार रुपये से कम लोन 

5 प्रतिशत ब्याज दर 

50 हजार से 5 लाख रुपये तक का लोन 

6 प्रतिशत ब्याज दर 

5 लाख से 15 लाख रुपये तक का लोन 

7 प्रतिशत ब्याज दर 

15 लाख से 25 लाख रुपये लोन 

8 प्रतिशत ब्याज दर 

 

यहां बताई गई ब्याज दरें बैंकों और वित्तीय संस्थाओं के विवेकाधिकार पर निर्भर करता है। ब्याज दर तय करने का अधिकार भारतीय रिजर्ब बैंक (RBI) और बैंकों का है। ब्याज दर समय – समय बदलती रहती है। लोन के लिए आवेदन करते समय बैंक से ब्याज दर के बारें में जरुर जानकारी प्राप्त करें।

महिलाओं के लिए ब्याज दर कम होती है

जब नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन से लोन के लिए कोई महिला दिव्यांग/विकलांग आवेदन करती हैं तो ब्याज दर पुरुषों के अपेक्षा कम लागू किया जाता है। महिलाओं को ब्याज दर में 1 प्रतिशत की अतिरिक्त की छूट प्रदान की जाती है। 

नेशनल हैन्डीकैप्ड फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कोर्पोरेशन से लोन के लिए शर्तें क्या हैं?

ZipLoan से मिलता है बिजनेस बढ़ाने के लिए बिजनेस लोन 

ZipLoan कंपनी फिनटेक सेक्टर की प्रमुख गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) - नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी NBFC प्रमुख है जिससे कारोबारियों को 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में बिना कुछ गिरवी रखे मिलता है। 

बिजनेस लोन की उपयोग कारोबारी अपने बिजनेस में जरूरी उपकरण खरीदने के लिए, वर्किंग कैपिटल मैनेज करने के लिए, नई जगह रेंट पर लेने के लिए या अन्य किसी जरूरत को पूरा करने के लिए के लिए कर सकते हैं। 

कारोबारी चाहें तो बिजनेस लोन से पिछले बिजनेस के नाम पर दूसरी जगह पर कोई और बिजनेस शुरु कर सकते हैं। नये वर्करों को काम पर रख सकते हैं। 

कारोबारियों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए ZipLoan द्वारा बेहद न्यूनतम शर्तों पर 5 लाख तक बिजनेस लोन मुहैया कराया जाता है। बिजनेस लोन की न्यूनतम शर्ते निम्न हैं:

बिजनेस लोन के लिए शर्तें

जो कारोबारी इन आसान शर्तों को पूरा करते हैं वह बहुत कम कागजी दस्तावेजों पर ZipLoan से 7.5 लाख तक का बिजनेस लोन प्राप्त कर सकते हैं।

ZipLoan से बिजनेस लोन के लिए जरूरी कागजत 

ZipLoan से बिजनेस लोन लेने के फायदें

बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन: जहां बैंक या दूसरी कंपनियों से लोन लेने के लिए प्रॉपर्टी के पेपर गिरवी रखना पड़ता है वहीं ZipLoan से 7.5 लाख तक का बिजनेस लोन लेने के लिए कुछ भी गिरवी रखने की जरूरत नहीं होती है। 

प्री पेमेंट चार्जेस फ्री: अधिकतर बैंक और लोन देने वाली कंपनी लोन तय समय से पहले क्लोज करने पर चार्ज लगाती हैं वहीं ZipLoan का बिजनेस लोन 6 महीने बाद प्री पेमेंट चार्जेस फ्री है। 

सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन: अगर आपको भूख आज लगे और खाना दो दिन बाद मिले तो कैसा लगेगा? जाहिर सी बात है कि अच्छा नहीं लगेगा। ठीक इसी तरह जहां बैंक और दूसरी कम्पनियां लोन देने में लंबा समय लगाती हैं वही ZipLoan से सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन मिल जाता है। 

टॉप-अप लोन की सुविधा उपलब्ध है: ZipLoan कंपनी द्वारा टॉप-अप लोन की सुविधा भी दी जाती है। टॉप-अप के तौर पर 2.5 लाख तक लोन और अधिक मिल जाता है। यहां यह बताना जरूरी है कि टॉप-अप लोन उन्हीं को मिलता है जिनकी 9 मंथली ईएमआई ठीक तरह से कटी होती है। 

ICICI-Prudential-Internal-page

बुनियादी समस्याओं का हल

राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?