कोल्ड स्टोरेज बिज़नेस कैसे शुरू करें?

आज के समय में मौसम चाहे कोई भी हो लेकिन हमें खाने के लिए हर प्रोडक्ट मिल ही जाता है। जानते हैं ऐसा क्यों है? क्योंकि आज की तारीख में हमारी टेक्नोलॉजी बहुत उन्नत हो चुकी है। उन्नत टेक्नोलॉजी की वजह से भांति – भांति के कोल्ड स्टोरेज का निर्माण हुआ। कोल्ड स्टोरेज में कोई भी प्रोडक्ट रखकर उसे लंबे समय तक खाने योग्य रखा जा सकता है।

कोल्ड स्टोरेज यानी शीत गृह का बिजनेस बहुत आसानी से शुरु किया जा सकता है। कोल्ड स्टोरेज खोलने के लिए और पुराने कोल्ड स्टोरेज का विस्तार करने के लिए लगभग सभी बैंकों और नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) से बिजनेस लोन बहुत आसानी से मिल जाता है।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) ZipLoan द्वारा एमएसएमई कारोबारियों को बिजनेस का विस्तार करने के लिए 7.5 लाख तक का बिजनेस लोन, बहुत कम शर्तों पर, सिर्फ 3 दिन* में दिया जाता है।

आपका बिजनेस कितना पुराना है?
पिछले साल की बिक्री ?
प्रथम नाम
अंतिम नाम
मोबाइल नंबर
अपने शहर का नाम दें

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

Icon1

न्यूनतम कागजात

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं है

Icon4

प्री-पेमेंट चार्जेंस फ्री

6 EMI का भुगतान करने के बाद

Icon3

सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन

रकम आपके बैंक खाते में

कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस का क्या पोजीशन है?

आज के समय में भारत फलों और सब्जियों के उत्पादन में अग्रणी देश है। भारत में आम, पपीता, अमरूद और केले का सालाना लगभग 260 मिलियन मीट्रिक टन का उत्पादन होता है। इसके अलावा दूध, मांस और पोल्ट्री उत्पादों का उत्पादन बहुत अधिक मात्रा में उत्पादन होता है। लेकिन अभी भी भारत में सब्जियों की सालाना खपत लगभग 4.6-15.9% है। तो बाकी सब्जियों का क्या होता है?

बाकी सब्जियों को कोल्ड स्टोरेज में रखा जाता है और कुछ समय बाद कोल्ड स्टोरेज में रखी सब्जियों को विदेश में बेचा जाता है। कुछ सब्जियों को भारत में ही अगले सीजन में बेचा जाता है। ठीक इसी तरह का फल, पोल्ट्री प्रोडक्ट और दूध प्रोडक्ट के साथ भी होता है।

इस पुरे प्रोसेस में अगर किसी को बिना बहुत कम मेंहनत में अधिक मुनाफा होता है, तो वह कोल्ड स्टोरेज के मालिक हैं। जी हां कोल्ड स्टोरेज के मालिक दूसरों की सब्जियां, फल, पोल्ट्री प्रोडक्ट और दूध प्रोडक्ट को अपने कोल्ड स्टोरेज में भाड़े पर पर रखकर ठंठा रखते हैं। बदले में उन्हें प्रोडक्ट मालिकों से पैसा मिलता है। मतलब एक बार कोल्ड स्टोरेज बनवा दिया तो इसके बाद घर बैठे इनकम का इंतजाम हो जाता है।

कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस कैसे शुरु करें?

कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस आज की तारीख में एक शानदार बिजनेस माना जाता है। फ़ूड कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया द्वारा की गई रिसर्च के हवाले से कहा गया है कि कोल्ड स्टोरेज के अभाव में हर साल लगभग 6.7 करोड़ टन फूड प्रोडक्ट (लगभग 92 हजार करोड़ रुपए के) खराब हो जाते हैं। इन प्रोडक्ट को बचाने के लिए देश में लगभग 4000 से ज्यादा छोटे-बड़े कोल्ड स्टोरेज की आवश्यकता है।

यह एक बिजनेस खोलने या बिजनेस का बढ़ाने का मौका है। इस मौके का लाभ उन सभी लोगों को उठाना चाहिए जो लोग अभी तक बिजनेस शुरु करने के बारे में सोच रहे हैं या पहले से ही कोई अपना बिजनेस चला रहे हैं।

लगभग सभी सरकारी – प्राइवेट बैंकों और नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) की तरफ से कोल्ड स्टोरेज खोलने के लिए और पहले से चल रहे कोल्ड स्टोरेज का विस्तार करने के लिए बिजनेस लोन बहुत आसानी से उपलब्ध कराया जाता है। आइये अब समझते हैं कि कोल्ड स्टोरेज खोलने के लिए महत्वपूर्ण बातें क्या – क्या हैं।

कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस दो प्रकार का होता है

जैसा कि ऊपर बताया गया है कि फल, सब्जी, मीट और दूध इत्यादि सभी चीजों को कोल्ड स्टोरेज में रखा जाता है। इसीलिए कोल्ड स्टोरेज को भी 2 प्रकार में विभाजित कर दिया गया है।

  1. फल और सब्जियों के लिए सब्जियों के लिए कोल्ड स्टोरेज
  2. दूध प्रोडक्ट, पोल्ट्री प्रोडक्ट इत्यादि के लिए कोल्ड स्टोरेज

तो जब भी कोल्ड स्टोरेज शुरु करने का विचार करें तो सबसे पहले इस बात पर विचार और निर्णय करना आवश्यक है कि कोल्ड स्टोरेज किस प्रकार का होगा। मतलब जो आप कोल्ड स्टोर खोलेंगे उसने फल – सब्जी रखा जायेगा या दूध और पोल्ट्री इत्यादि का प्रोडक्ट। इसी बात के निर्धारण पर आगे यह निर्भर करेगा कि कोल्ड स्टोरेज कितना बड़ा होगा और लागत कितनी आएगी।

कोल्ड स्टोर के लिए सही जगह का चुनाव करना

आपको जानकारी के लिए बता दें कि कोल्ड स्टोर का बिजनेस और जनरल स्टोर के बिजनेस में अंतर होता है। इसलिए दोनों के जगह में भी अंतर होता है। कोल्ड स्टोर की लोकेशन कुछ इस तरह की होनी चाहिए:

कोल्ड स्टोरेज के लिए लाइसेंस प्राप्त करना अनिवार्य है

बिना सरकारी लाइसेंस के कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस चलाना गैरकानूनी है। कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस तभी किया जा सकता है, जब उसके लिए आधिकारिक संस्था या संबंधित प्राधिकरण से कोल्ड स्टोरेज चलाने का लाइसेंस प्राप्त हो जाता है। लाइसेंस के लिए भारत सरकार की मिनिस्ट्री ऑफ फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्रीज के स्थानीय कार्यालय में संपर्क करना होता है।

कोल्ड स्टोरेज के बिजनेस के बारे में अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां

कोल्ड स्टोरेज के हैं बहुत लाभ

कोल्ड स्टोरेज के लिए धन की व्यवस्था ऐसे करें

वर्तमान में केन्द्र सरकार और राज्य सरकारें यह प्रयास कर रही हैं कि देश में अधिक से अधिक स्वरोजगार हो जिससे देश में बेरोजगारी की संख्या कम हो। इसीलिए लगभग सभी सरकारी – प्राइवेट बैंकों के साथ कई एनबीएफसी से बिजनेस लोन बहुत आसानी से मिलता है। आप भी बिजनेस लोन लेकर कोल्ड स्टोरेज का बिजनेस शुरु करन सकते हैं। बैंक से लोन प्राप्त करने के लिए अपने नजदीकी बैंक की ब्रांच से संपर्क करें।

ZipLoan से मिलता है बिजनेस बढ़ाने के लिए 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन

देश की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी – एनबीएफसी ZipLoan द्वारा कारोबारियों को 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन, बिना कुछ गिरवी रखे, न्यूनतम कागजातों पर सिर्फ 3 दिन में प्रदान किया जाता हैं। देश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम यानी एमएसएमई बिजनेस को बिजनेस लोन प्रदान करने वाली ZipLoan एक प्रमुख कंपनी है।

ZipLoan से बिजनेस लोन लेने की पात्रता

ZipLoan से बिजनेस लोन के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स

ZipLoan से बिजनेस लोन लेने का प्रमुख फायदें

ICICI-Prudential-Internal-page

बुनियादी समस्याओं का हल

राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?