जननी सुरक्षा योजना क्या है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा सभी वर्गों के कल्याण के लिए सौकड़ों कल्याणकारी योजना चलाई जा रही है। इस योजना में समाज के निचले तबकों की गर्भवती महिलाओं की स्वास्थ्य सुरक्षा और सुरक्षित प्रसव सुनिश्चित करने के लिए केन्द्र सरकार आर्थिक मदद मिलती है।

जननी सुरक्षा योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) के तहत एक सुरक्षित मातृत्व कार्यक्रम है। Janani Suraksha Yojana भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा चलाई जा रही है। यह स्कीम जननी योजना के नाम से जानी जाती है।

इस योजना में गर्भवती महिलाओं को 6 हजार रुपये की सम्मान राशि नगद दी जाती है। योजना का उद्देश्य मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करना है।

जननी योजना 2005 में शुरु हुई है। योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को अपने क्षेत्र की आशा कार्यकर्ती के साथ नजदीकी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में खुद को पंजीकृत यानी रजिस्टर्ड कराना होता है। नगद धनराशि का लाभ तीन किस्त में मिलता है।

आपका बिजनेस कितना पुराना है?
पिछले साल की बिक्री ?
प्रथम नाम
अंतिम नाम
मोबाइल नंबर
अपने शहर का नाम दें

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

logo
बेहद कम कागजी दस्तावेज प्रक्रिया

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं

logo
बिना कुछ गिरवी रखें

10 लाख सालाना टर्नओवर कारोबार के लिए

logo
सिर्फ 3 दिन के भीतर लोन मिलेगा

घर बैठे आपके बैंक अकाउंट में

logo
6 महीने बाद प्री-पेमेंट फ्री

आसान किश्तों में वापस करें

जननी सुरक्षा योजना - Janani Suraksha Yojana

अपने देश में कामगारों का एक बड़ा तबका ऐसा है जो खुद की दैनिक जरूरतों को पूरा करने में असमर्थ हैं। यह वर्ग ऐसा है जो हर रोज कमाता है और हर रोज खाता है।

ऐसे में जब कोई बीमारी होती है या अधिक पैसों की जरूरत पड़ती है तब बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थितियों में बहुत से लोगों की मृत्यु भी हो जाती है।

सरकार का आंकड़ा है कि गर्भवस्था के दौरान देश में सालाना 56 हजार से अधिक महिलाओं की मौत और पैदा होने के एक साल के भीतर13 लाख से अधिक नवजात की भी मृत्यु हो जाती है। जिनमे कामगार वर्गों की महिलाओं की संख्या अधिक होती है।

सरकार का प्रयास है की अचानक या समय से पहले या गर्भवस्था में किसी भी मृत्यु न हो या किसी विषम परिस्थिति में बहुत कम संख्या में मृत्यु हो।

सरकार की सोच यह है कि अगर गर्भवती महिलाओं को आर्थिक मदद उपलब्ध कराई जाय तो इससे जच्चा-बच्चा के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। जननी सुरक्षा योजना के तहत गर्भवतियों की सारी जांच और बच्चे की डिलीवरी नि:शुल्क होती है।

जज्चा – बच्चा को सुरक्षित रखने के लक्ष्य के साथ केन्द्र सरकार द्वारा जननी सुरक्षा योजना – JSY शुरु हुई है। जननी सुरक्षा योजना – JSY के अंतगर्त गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी सरकारी अस्पताल में होने पर केन्द्र सरकार द्वारा सीधे लाभार्थी महिला के बैंक खाते में 6 हजार रुपये मिलेगा।

Janani Suraksha Yojana के बारे में यह जानकारी होना चाहिए कि इसके अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाली महिलाओं को ही आर्थिक लाभ मिलता है।

सरकार का यह भी प्रयास है कि महिलाओं का प्रसव अस्पताल में ही हो। अस्पताल में या प्रशिक्षित दाई द्वारा प्रसव कराने पर जज्चा – बच्चा के सुरक्षित रहने की अधिक संभवना होती है। इसीलिए सरकार द्वारा गरीब वर्ग की महिलाओं को अस्पताल में प्रसव कराने के लिए प्राथमिकता दी जा रही है।

जननी सुरक्षा योजना का लाभ

जननी सुरक्षा योजना में आर्थिक लाभ दो कैटेगरी में दिया जाता है। जब ग्रामीण महिला गर्भवती होती है तो उन्हें जननी योजना के तहत 1400 रुपये मिलता है। तथा शहरी महिलाओं को 1 हजार रुपये जननी योजना के तहत मिलता है।

जब महिला का प्रसव सरकारी अस्पताल में होता है तब उन्हें प्रधानमंत्री मात्र वंदना योजना के तहत बची हुई धनराशि यानी 5 हजार रुपये मिलता है।

इसके अतिरिक्त जो महिला जननी योजना में पंजीकृत होती है उन्हें प्रसव के बाद पांच साल तक जच्चा-बच्चा के टीकाकरण को लेकर भी उन्हें संदेश मिलते रहते हैं। बच्चे की 5 वर्ष की अवस्था तक सरकारी अस्पताल में सभी तरह के टिके नि:शुल्क लगाया जाता है।

जननी सुरक्षा योजना का लाभ कैसे मिलता है?

Janani Suraksha Yojana का लाभ प्राप्त करना बहुत आसान है। योजना का लाभ उठाने के लिए गर्भवती महिला को जब यह पता चले कि वह गर्भवती ही तब वह खुद को अपने नजदीकी किसी भी सरकारी अस्पताल में पंजीकृत यानी रजिस्टर्ड करा लेना होता है।

जननी योजना में रजिस्ट्रेशन होने के बाद लाभार्थी को एक कार्ड मिलता है जिसे जननी कार्ड कहा जाता है। सरकारी अस्पताल में रजिस्ट्रेशन कराने में स्थानीय स्वास्थ्य कार्यकर्ती यानी आशा की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण होती है। सरकारी अस्पताल में प्रसव के बस 1 हजार रुपये आशा को भी मिलता है।

जननी सुरक्षा योजना के तहत 5 हजार रुपये प्राप्त करने के लिए निम्न कागजातों की जरूरत पड़ती है:

जननी योजना में आशा की होती है महत्वपूर्ण भूमिका। स्थानीय स्वास्थ्य कार्यकर्ती यानी आशा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त हेल्थ वर्कर है। जिसे सरकार द्वारा समय – समय ट्रेनिंग प्रदान की जाती है। गरीब महिलाओं और सरकार के बीच आशा एक कड़ी के रुप में काम करती है। जननी योजना का लाभ दिलवाने में आशा की निम्न भूमिका होती है:

ICICI-Prudential-Internal-page

बुनियादी समस्याओं का हल

राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया क्योंकि ZipLoan को लोन के बदले कुछ गिरवी रखने की जरूरत नही थी। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?