स्टैंड अप इंडिया स्कीम

स्टैंड अप इंडिया स्कीम

स्टैंड अप इंडिया स्कीम क्या है? और रजिस्ट्रेशन कैसे होता है?

केन्द्र में जबसे नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनी है यानी 2014 के बाद देश में कारोबार को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं शुरु की गई हैं।

एक तरफ मुद्रा लोन योजना के जरिये एमएसएमई सेक्टर के कारोबारियों को 10 लाख तक का बिजनेस लोन बिना कुछ गिरवी रखे दिया जा रहा है।

वहीं दूसरी तरफ समाज में उन तबकों के लिए विशेष बिजनेस लोन योजना शुरु की गई है जो लोग बिजनेस बढ़ाने में खुद से सक्षम नही है।

देश के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और महिला कारोबारियों को आर्थिक मदद करने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा स्टैंड अप इंडिया लोन योजना चलाई जा रही है।

5 अप्रैल, 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई स्टैंड अप इंडिया लोन योजना के मुख्य लाभार्थी देश के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग और महिला कारोबारी हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि केन्द्र सरकार का जोर इज ऑफ़ डूइंग बिजनेस पर है। इसी के तहत कारोबारियों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराई जा रही है।

आपका बिजनेस कितना पुराना है?
पिछले साल की बिक्री ?
प्रथम नाम
अंतिम नाम
मोबाइल नंबर
अपने शहर का नाम दें

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

logo
बेहद कम कागजी दस्तावेज प्रक्रिया

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं

logo
बिना कुछ गिरवी रखें

5 लाख सालाना टर्नओवर कारोबार के लिए

logo
सिर्फ 3 दिन के भीतर लोन मिलेगा

घर बैठे आपके बैंक अकाउंट में

logo
6 महीने बाद प्री-पेमेंट फ्री

आसान किश्तों में वापस करें

क्या है स्टैंड अप इंडिया लोन योजना?

इस योजना में दो शब्द बहुत महत्वपूर्ण हैं- स्टैंड अप और इंडिया यानी भारत को खड़ा करने की बात की जा रही है। चूँकि हमारे देश में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग और महिला कारोबारी इतना सक्षम नही होते हैं कि वह अपना कारोबार खुद से बढ़ा सके इसीलिए केन्द्र सरकार द्वारा स्टैंड अप इंडिया लोन योजना शुरु की गई है।

स्टैंड अप इंडिया लोन योजना के तहत लाभार्थी श्रेणियों के कारोबारियों को एक नया कारोबार शुरु करने के लिए 10 लाख से लेकर 1 करोड़ तक का बिजनेस लोन दिया जाता है।

आपको बता दें कि कारोबारियों को फाइनेंशियल सहायता खुद का बिजनेस शुरु करने के लिए दिया जाता है। बैंक से पैसे पाने के लिए या पैसे की वापसी के लिए कारोबारियों को एक रुपे डेबिट कार्ड जारी किया जाएगा जिसके जरिये कारोबारी अपना बिजनेस स्थापित कर सकते हैं।

आपको बता दें कि स्टैंड अप इंडिया लोन का इस्तेमाल मैनुफैक्चरिंग बिजनेस के लिए होना चाहिए। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर दो लोग मिलकर स्टैंड अप इंडिया लोन लेना चाहते हैं तो उनमे से एक व्यक्ति अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति या महिला होनी चाहिए और उनकी कारोबार में 51% हिस्सेदारी होनी चाहिए।

स्टैंड अप इंडिया लोन का लाभ कैसे मिलता है?

जिन कारोबारियों को स्टैंड अप इंडिया लोन की जरूरत है उनको सबसे पहले स्टैंड अप इंडिया की वेबसाइट पर जाना होगा। स्टैंड अप की वेबसाइट है- https://www.standupmitra.in/ इस वेबसाइट पर जाने के बाद सबसे पहला काम होना चाहिए एलिजिबिलिटी चेक करने का।

एलिजिबिलिटी जांचने के बाद स्टैंड अप इंडिया की वेबसाइट से ही यह जान लेना चाहिए कि स्टैंड अप इंडिया लोन के किन किन कागज़ी दस्तावेजों की जरूरत पड़ने वाली है। इसके बाद नेक्स्ट प्रक्रिया का पालन करना होता है।

स्टैंड अप इंडिया लोन योजना की पात्रता – एलिजिबिलिटी

  1. अप्लाई करने वाला/वाली कारोबारी SC/ST या महिला होनी चाहिए।
  2. एप्लिकेंट की उम्र 18 साल से अधिक होना जरूरी है।
  3. कारोबार ग्रीन फील्ड एरिया में होना चाहिए।
  4. जिस कारोबार के लिए लोन चाहिए वह सर्विस सेक्टर का हो या मैनुफैक्चरिंग सेक्टर का हो।
  5. आवेदक किसी भी बैंक-वित्तीय संस्था से डिफ़ॉल्टर नहीं होना चाहिए।

स्टैंड अप इंडिया लोन योजना के लिए जरूरी कागज़ी दस्तावेज

स्टैंड अप इंडिया लोन के लिए कैसे अप्लाई करें?

आपको बता दें कि स्टैंड अप इंडिया लोन सभी बैंक की ब्रांच से मिलता है। अप्लाई करने के लिए अपने नजदीकी बैंक ब्रांच से संपर्क करें। अगर आप ऑनलाइन अप्लाई करना चाहते हैं तो स्टैंड अप इंडिया की वेबसाइट https://www.standupmitra.in/पर जानकार सीधे ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं।

बुनियादी समस्याओं का हल

star star star star star
राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

star star star star star
कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया क्योंकि ZipLoan को लोन के बदले कुछ गिरवी रखने की जरूरत नही थी। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 5 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?